Show Mobile Navigation

Friday, August 7, 2020

Computers Notes

ALL GYAN - August 07, 2020


 कंप्यूटर की परिचय        


   कंप्यूटर एक मानव निर्मित  मशीन है,जो हमारे द्धारा दिए गये डेटा को सुरिक्षत रख सकती है , पढ़ सकती है तथा उस पर क्रिया करके एक अर्थपूर्ण परिभाषा देती है . कंप्यूटर शब्द अंग्रेजी भाषा के शब्द कंप्यूटर से बना है यह प्रत्येक कार्य आदेशो के के नियन्त्रण में रहते हुआ करता है जो इसकी मुख्य मेमोरी में संग्रहित  रहती है, कंप्यूटर इनपुट डिवाइसेस के माध्यम से डाटा प्राप्त करता है तथा उस पर आवश्यक क्रिया करके आउटपुट डिवाइसेस के माध्यम से हमे परिणाम दिखाया है.कंप्यूटर हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर नामक अंगो  का संग्रह होता है, जो हमें विभिन्न कार्य करने में मदद करते है  कंप्यूटर कोई कार्य स्वतः नहीं करते है. ये वही कार्य करते है, जो हम चाहते हैं , हमें सिर्फ सही आदेश देना होता हैं , कंप्यूटर की स्मृति क्षमता मनुष्य की स्मृति क्षमता मनुष्य की स्मृति क्षमता से बेहतर होती हैं कंप्यूटर का जनक(पिता) चालर्स बैबैज हैं

        

   

    कंप्यूटर की पीढ़ी            (The Generations of Computers)

 

1.      प्रथम पीढ़ी(First Generation)1946 से 1958 तक प्रथम पीढी के कंप्यूटर विशाल, धीमे तथा महंगे होते है तथा इनके सी.पी.यू.में 'Vaccum Tubes'प्रयोग होता है और इस पीढ़ी के कुछ कंप्यूटर के नाम इस प्रकार हैं – एनिएक(ENIAC),एड्सैक(EDSAC),एड्वैक(EDVAC),युनिवैक-1(UNIAC-1),यूनीवैक-2(UNIVAC-2), आई.बी.एम.-701, आई.बी.एम.-650, मार्क-२ ,मार्क-3,बरोज-2202|

 

2.       द्धूसरी पीढ़ी (Second Generation)1959 से 1964  तक दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर में  vacume की जगह ( Transisters) ट्रंजिस्टर का प्रयोग किया जाता था.और इस पीढ़ी के कुछ कंप्यूटर के नाम इस प्रकार हैं आई.बी.एम.-1401, आई.बी.एम.-1602,आई.बी.एम.-7094, सी.डी.एस.-3600, आर.सी.ए.-501, युनीवैक-1107 आदि| इन कंप्यूटर का उपयोग (use) वैज्ञानिक कार्यों और व्यापारिक कार्यों में किया जाता हैं|

3.       तीसरी पीढ़ी (Third Generation)1965 से 1970 तक    तीसरी पीढ़ी के कंप्यूटर में ट्रंजिस्टर ( Transisters)  की जगह Integrated circuits (IC) का प्रयोग किया जाता है इस पीढ़ी  के कुछ कंप्यूटर के नाम इस प्रकार हैं   आई.बी.एम-360 तथा 370 श्रृखंलाएँ,आई.बी.एल-1900 तथा 2900 श्रृखंलाएँ, बरोज-5700    तथा 7700 श्रृखंलाएँ, ७००० श्रृखंलाएँ, 200 श्रृखंलाएँ आदि|

4.      चौथी पीढ़ी(Fourth Generation) 1971 से 1989 तक  चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर में वृहत एकीकृत परिपथ (Very large integrated Circuit) का प्रयोग किया जाता है ऐसी कुछ कम्पनीयों के नाम है - आई०बी०एम०, एच०सी०एल०, विप्रो , जेनिथ, एचपी, आदि | जिनकी चार श्रेणियाँ के पीसी का उपयोग प्रायः सामाप्त हो गया है और केवल पेंटियम श्रेणी के कंप्यूटर प्रचलन मे है, जिनकी चार श्रेणियाँ पेंटियम-1 से लेकर पेंटियम-4 तक अस्तित्व मे आ चुकी है|

5.      . पांचवी पीढ़ी (Fifth Generation) 1980 से अब तक  वर्तमान समय में ऐसे कंप्यूटरो के निर्माण का प्रयास चल रहा है, जिसमें चौथी पीढ़ी से अधिक क्षमताएं हो तथा यह तर्क करने , निर्णय करने तथा सोचने में भी सक्षम हो. वैज्ञानिको का दावा है कि ये कंप्यूटर बहुत हद तक मानव मस्तिष्क जैसे होगें के कंप्यूटरों की तुलना मे अति क्षमताएँ है| इन्हें सुपर कंप्यूटर कहा जाता है| ये एक साथ सैकड़ो कंप्यूटरों के बराबर कार्य अकेले ही कर लेते है|

 


                               


0 comments:

Post a Comment