Show Mobile Navigation

Wednesday, August 26, 2020

Fax brief note

ALL GYAN - August 26, 2020

फैक्स का संक्षिप्त टिप्पणी




फैक्स(Fax)   

    

  फैक्स मशीन एक आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक संप्रेषण यंत्र है। फैक्स शब्द अंग्रेजी के तीन शब्द के प्रारंभिक अक्षरों  का समूह है। जिसका अर्थ दूर की सूचनाओं की छाया प्रति से है फैक्स द्वारा ग्राफ , चार्ट, हस्तलिखित तथा मुद्रित है दस्तावेजों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर प्राप्त किया जा सकता है। फैक्स पर संदेश देने के लिये दूरभाष से   संबंध स्थापित करना अनिवार्य हो जाता है। ताकि फैक्स की पूर्ण सूचना प्राप्तकर्ता को मिल सके। प्रेषक दस्तावेज को मशीन में डालकर जिस जगह उसकी प्रतिलिपि भेजनी होती है। उसका कोड नं फैक्स में लगे दूरभाष के बटनों को दबाकर किया जाता है इसके बाद मशीन इलेक्ट्रेट मशीन के प्रकाशी स्केनर जैसे उपकरण के द्वारा दिये गये दस्तावेज का निरीक्षण  करती है इस यंत्र के माध्यम से जो भी प्रलेख या लिखित विवरण फैक्स में डालते है,उसकी जेराकस कॉपी में प्राप्त होती है,। रिसीविंग फेक्स इस संकेत को ताप संवेदनशील  कागज समतुल्य नोटस की जेराक्स कॉपी कर देता है। इस संकेत को ताप संवेदनशील  कागज समतुल्य नोटस की जेराक्स कॉपी में कर देता है। फैक्स मशीन में एक पेज कम से कम 20 सेकेण्ड में प्राप्त किया जा सकता है। फैसीमाइल फेक्स मशीन में एक पेज कम से कम 20 सेकेंड में प्राप्त किया जा सकता है। फैसीमाइल या फेक्स मशीन से कोई पिक्चर या लिखा हुआ पेज स्केन  करके दूसरी जगह भेजा जाता है। इसका उपयोग ऑफिसों में ज्यादा होता है।  जहां कोई मैसेज  एक ऑफिस में भेजना पड़ता है। ये भेजना पड़ता है। ये मैसेज लाइन से न बनकर डॉट्स से बनता है। टेलीफोन की ही तरह यह मशीन भी तारों से ही जुड़ी होती है। इन्हीं तारों से ही मैसेज एक जगह से दूसरी पहुचता है। फैक्स मशीन  से पिक्चर या पेज की एक और कॉपी बनती है लेकिन ऑरिजनल कॉपी ही ज्यादा डार्क होती है।

 

                 किसी भी दस्तावेज या document को फैक्स करने के लिए प्रेषक या sender और प्राप्तकर्ता या Receiver    के पास एक टेलीफोन जो STD connection से लगा हो और एक फैक्स मशीन की आवश्यकता होती है। किसी भी स्थान पर फैक्स करने के लिए फैक्स का अपना एक नम्बर होता है जिसे फैक्स नम्बर कहते हैं। फैक्स मशीन और टेलीफोन का नम्बर दोनो एक ही होता है। 


 उदाहरण के लिए जैसे हम अपनी अंकसूची को दुर्ग से भोपाल फैक्स के द्वारा भेजना चाहते हैं तो उसके लिए हमें दुर्ग में स्थित टेलीफोन से ;जो STD connection से जुड़ा हो भोपाल में स्थित टेलीफोन नम्बर पर dail  करते हैं। नम्बर dail  करने पर एक tone  जिसे FAX tone कहते हैं, सुनाई देता है। भोपाल में स्थित टेलीफोन की घंटी बजाने पर वहां उपस्थित व्यक्ति को पता चल जाता है ठीक उसकी प्रकार कोई किसी दस्तावेज को फैक्स करना चाहता है, वह व्यक्ति अपने फैक्स मशीन को on कर देता है। जैसे ही फैक्स मशीन on होता है वैसे ही प्रेषक की टेलीफोन पर फैक्स टोन सुनाई देता है जिससे पता चलता है कि फैक्स मशीन on हो गया है। इसके बाद प्रेषक जिस दस्तावेज को प्रेषित करना चाहता है उसे टेलीफोन से जुड़े हुए फैक्स मशीन में डाल देता है फिर फैक्स मशीन उस दस्तावेज को scaning करना आरंभ कर देता है। scaning  के बाद उस दस्तावेज का print प्राप्तकर्ता side लगे फैक्स मशीन पर प्राप्त हो जाता है। इसके बाद प्रेषक के फैक्स मशीन पर एक ok का संदेश आता है जो दस्तावेज के फैक्स होने की पुष्टि करता है। जब तक यह ok  का संदेश प्राप्त नहीं हो जाता तब तक वह दोबारा भेजने के लिए retrieve का option आता है।

   





Next Previous
Editor's Choice